भगत सिंह के 51 प्रेरक विचार, जो आज भी हमें राह दिखाते हैं

SHARE:

Bhagat Singh Quotes in Hindi - Bhagat Singh Dialogue in Hindi

Bhagat Singh Quotes in Hindi
आज हम आपके लिए भगत सिंह के अनमोल वचन Bhagat Singh Quotes in Hindi लेकर आए हैं। शहीदे आज़म भगत सिंह का नाम सुनते ही हर भारतीय के खून में देशभक्ति का तूफान उमड़ पड़ता है। मात्र 23 वर्ष की आयु में भगत सिंह स्वतंत्रता की लड़ाई में हंसते-हंसते फांसी पर झूल गये। उन्होंने न सिर्फ स्वयं को देश की आज़ादी की खातिर बलिदान कर दिया, वरन यह बताया कि उनके लिए देश और आज़ादी के मायने क्या हैं। यही कारण है कि उनके विचार आज भी हमें प्रेरित करते हैं। यही कारण है कि आज भी लोग गूगल पर Bhagat Singh Slogan in Hindi सर्च करते रहते हैं। हमें उम्मीद है कि भगत सिंह के प्रेरक विचार Bhagat Singh Dialogue in Hindi आपको अवश्य पसंद आएंगे।

Bhagat Singh Quotes in Hindi - Bhagat Singh Dialogue in Hindi

दिल से निकलेगी न मरकर भी वतन की उल्फत, मेरी मिट्ठी से भी खूशबू-ए-वतन आएगी।

लिख रह हूँ मैं अंजाम जिसका कल आगाज़ आएगा… मेरे लहू का हर एक क़तरा इंकलाब लाएगा।

मेरे सीने में जो भी जख्म है वो सब तो फूलो के गुच्छे है हमे तो पागल ही रहने दो हम पागल ही बनकर अच्छे है।

मेरी भावनाएं मेरी कलम से इस तरह रूबरू हैं अगर मैं इश्क भी लिखना चाहूं तो हमेशा इन्कलाब लिखा जाता है।

इंसानों को कुचलकर आप उनके विचारों को नहीं मार सकते। 

 
मेरा जीवन एक महान लक्ष्य के प्रति समर्पित है–देश की आज़ादी। दुनिया की अन्य कोई आकर्षक वस्तु मुझे नहीं लुभा सकती।

सर्वगत भाईचारा तभी हासिल हो सकता है जब समानताएं हों–सामाजिक, राजनैतिक एवं व्यक्तिगत समानताएं।

 क्रांतिकारी सोच के दो आवश्यक लक्षण हैं– बेरहम निंदा तथा स्वतंत्र सोच।

मैं इस बात पर जोर देता हूँ कि मैं महत्वकांक्षा, आशा और जीवन के प्रति आकर्षण से भरा हुआ हूँ पर ज़रूरत पड़ने पर मैं ये सब त्याग सकता हूँ और वही सच्चा बलिदान है।

व्यक्ति की हत्या करना सरल है परन्तु विचारों की हत्या आप नहीं कर सकते। आप Bhagat Singh Quotes in Hindi का 10वां वचन पढ़ रहे हैं। आशा है आपको ये अनमोल वचन पसंद आ रहे होंगे।

महान साम्राज्य ध्वंस हो जाते हैं पर विचार जिंदा रहते हैं।

बम और पिस्तौल से क्रांति नहीं आती, क्रांति की तलवार विचारों की सान पर तेज होती है।

यदि बहरों को सुनना है तो आवाज को बहुत जोरदार होना होगा। जब हमने बम गिराया तो हमारा धेय्य किसी को मारना नहीं थ। हमने अंग्रेजी हुकूमत पर बम गिराया था, अंग्रेजों को भारत छोड़ना चाहिए और उसे आज़ाद करना चहिए।

आत्मबल को शारीरिक बल से जोड़ा जाना चाहिए ताकि अत्याचारी दुश्मन की दया पर न रहे।

मैं एक इन्सान हूँ और जो भी चीजे इंसानियत पर प्रभाव डालती है मुझे उनसे फर्क पड़ता है।
 
 
क्या तुम्हें पता है कि दूनिया में सबसे बड़ा पाप गरीब होना है? गरीबी एक अभिशाप है यह एक सजा है।

जिन्दा रहना हर किसी की कुदरती ख्वाहिश है जिसे मैं भी नही छिपाना चाहता लेकिन कैद होने की शर्त पर मै जिन्दा भी नहीं रहना चाहता।

कोई भी व्यक्ति जो जीवन में आगे बढ़ने के लिए तैयार खड़ा हो उसे हर एक रूढ़िवादी चीज की आलोचना करनी होगी, उसमें अविश्वास करना होगा और चुनौती भी देना होगा।

किसी भी इंसान को मारना आसान है, परन्तु उसके विचारों को नहीं। महान साम्राज्य टूट जाते हैं, तबाह हो जाते हैं, जबकि उनके विचार बच जाते हैं।

कानून की पवित्रता तभी तक बनी रह सकती है, जब तक वो लोगों की इच्छा की अभिव्यक्ति करे।  आप Bhagat Singh Slogan in Hindi का 20वां Quotes पढ़ रहे हैं। आशा है आपको ये Quotes in Hindi पसंद आ रहे होंगे।

क्रांति लाना किसी भी इंसान की ताकत के बाहर की बात है। क्रांति कभी भी अपने आप नहीं आती। बल्कि किसी विशिष्ट वातावरण, सामाजिक और आर्थिक परिस्थितियों में ही क्रांति लाई जा सकती है।

यह बात प्रसिद्ध है कि मैं एक आतंककारी रहा हूं परंतु मैं आतंककारी नहीं हूं। मैं एक क्रांतिकारी हूं जिसके कुछ निश्चित विचार और निश्चित आदर्श हैं और जिसके सामने एक लंबा प्रोग्राम है।

बम फेंकना न सिर्फ व्यर्थ है, अपितु बहुत बार हानिकारक भी है। उसकी आवश्यकता किन्हीं विशेष परिस्थितियों में ही पड़ती है, हमारा मुख्य लक्ष्य मजदूर और किसानों का संगठन होना चाहिए।

जिंदगी तो सिर्फ अपने कंधों पर जी जाती है, दूसरों के कंधे पर तो सिर्फ जनाजे उठाए जाते हैं।

यह एक काल्पनिक आदर्श है कि आप किसी भी कीमत पर अपने बल का प्रयोग नहीं करते, नया आन्दोलन जो हमारे देश में आरम्भ हुआ है और जिसकी शुरुवात की हम चेतावनी दे चुके हैं वह गुरुगोविंद सिंह और शिवाजी महाराज, कमल पाशा और राजा खान, वाशिंगटन और गैरीबाल्डी, लाफयेत्टे और लेनिन के आदर्शों से प्रेरित है। 

मनुष्य/इन्सान तभी कुछ करता है जब उसे अपने कार्य का उचित होना सुनिश्चित होता है, जैसा कि हम विधान सभा में बम गिराते समय थे।

राख का हर एक कण मेरी गर्मी से गतिमान है। मैं एक ऐसा पागल हूं जो जेल में भी आजाद है।

किसी को ‘क्रांति’ शब्द की व्याख्या शाब्दिक अर्थ में नहीं करनी चाहिए। जो लोग इस शब्द का उपयोग या दुरूपयोग करते हैं उनके फायदे के हिसाब से इसे अलग अलग अर्थ और अभिप्राय दिए जाते हैं।

जरूरी नहीं था कि क्रांति में अभिशप्त संघर्ष शामिल हो। यह बम और पिस्तौल का पंथ नहीं था।

आम तौर पर लोग जैसी चीजें हैं उसके आदी हो जाते हैं और बदलाव के विचार से ही कांपने लगते हैं। हमें इसी निष्क्रियता की भावना को क्रांतिकारी भावना से बदलने की जरूरत है। आप Bhagat Singh Dialogue in Hindi का 30वां Quotes पढ़ रहे हैं। आशा है आपको ये Bhagat Singh पसंद आ रहे होंगे।

जो व्यक्ति विकास के लिए खड़ा है उसे हर एक रूढ़िवादी चीज की आलोचना करनी होगी, उसमें अविश्वास करना होगा तथा उसे चुनौती देनी होगी।
 
मैं इस बात पर जोर देता हूँ कि मैं महत्त्वाकांक्षा, आशा और जीवन के प्रति आकर्षण से भरा हुआ हूँ। पर मैं ज़रुरत पड़ने पर ये सब त्याग सकता हूँ, और वही सच्चा बलिदान है।

अहिंसा को आत्म-बल के सिद्धांत का समर्थन प्राप्त है जिसमे अंतत: प्रतिद्वंदी पर जीत की आशा में कष्ट सहा जाता है। लेकिन तब क्या हो जब ये प्रयास अपना लक्ष्य प्राप्त करने में असफल हो जाएं? तभी हमें आत्म-बल को शारीरिक बल से जोड़ने की ज़रुरत पड़ती है ताकि हम अत्याचारी और क्रूर दुश्मन के रहमोकरम पर ना निर्भर करें।

इंसान तभी कुछ करता है जब वो अपने काम के औचित्य को लेकर सुनिश्चित होता है, जैसा कि हम विधान सभा में बम फेंकने को लेकर थे।

…व्यक्तियों को कुचल कर, वे विचारों को नहीं मार सकते। 

 
क्रांति मानव जाति का एक अपरिहार्य अधिकार है। स्वतंत्रता सभी का एक कभी न ख़त्म होने वाला जन्म-सिद्ध अधिकार है। श्रम समाज का वास्तविक निर्वाहक है।

निष्ठुर आलोचना और स्वतंत्र विचार ये क्रांतिकारी सोच के दो अहम् लक्षण हैं।

मैं एक मानव हूँ और जो कुछ भी मानवता को प्रभावित करता है उससे मुझे मतलब है।

हम यह कहना चाहते हैं कि युद्ध छिड़ा हुआ है और यह लड़ाई तब तक चलती रहेगी, जब तक कि शक्तिशाली व्यक्तियों ने भारतीय जनता और श्रमिकों की आय के साधनों पर अपना एकाधिकार कर रखा है। चाहे ऐसे व्यक्ति अंग्रेज पूंजीपति हों या अंग्रेजी शासक या सर्वथा भारतीय ही हों, उन्होंने आपस में मिलकर एक लूट जारी रखी हुई है। चाहे शुद्ध भारतीय पूंजी-पतियों के द्वारा ही निर्धनों का खून चूसा जा रहा हो, तो भी इस स्थिति में कोई अंतर नहीं पड़ता।  
 
हम नौजवानों को बम और पिस्तौल उठाने की सलाह नहीं दे सकते। विद्यार्थियों के लिए और भी महत्त्वपूर्ण काम हैं। राष्ट्रीय इतिहास के नाजुक समय में नौजवानों पर बहुत बड़े दायित्व का भार हैआप Bhagat Singh Quotes in Hindi का 40वां अनमोल विचार पढ़ रहे हैं। आशा है आपको ये अनमोल वचन पसंद आ रहे होंगे।

यदि आप सोलह आने के लिए लड़ रहे हैं और एक आना मिल जाता है, तो वह एक आना जेब में डालकर बाकी पंद्रह आने के लिए फिर जंग छेड़ दीजिए। हिन्दुस्तान के माडरेटों की जिस बात से हमें नफरत है, वह यही है कि उनका आदर्श कुछ नहीं है। वे एक आने के लिए ही लड़ते हैं और उन्हें मिलता कुछ भी नहीं।

समझौता कोई ऐसी हेय और निंदा योग्य वस्तु नहीं, जैसा कि साधारणत: हम लोग समझते है, बल्कि समझौता राजनीतिक संग्रामों का एक अत्यावश्यक अंग है। कोई भी कौम जो किसी अत्याचारी शासन के विरुद्ध खड़ी होती है, यह जरूरी है कि वह आरंभ में असफल हो और अपनी लंबी जद्‌दोजहद के मध्यकाल में इस प्रकार के समझौते के जरिए कुछ राजनीतिक सुधार हासिल करती जाए, परंतु पहुंचते-पहुंचते अपनी ताकतों को इतना संगठित और दृढ़ कर लेती है और उसका दुश्मन पर आखिरी हमला इतना जोरदार होता है कि शासक लोगों की ताकतें उस वक्त तक यह चाहती हैं कि उसे दुश्मन के साथ कोई समझौता कर लेना चाहिए।

समझौता भी ऐसा हथियार है, जिसे राजनीतिक जद्‌दोजहद के बीच में पग-पग पर इस्तेमाल करना आवश्यक हो जाता है जिससे एक कठिन लड़ाई से थकी हुई कौम को थोड़ी देर के लिए आराम मिल सके और वह आगे के युद्ध के लिए अधिक ताकत के साथ तैयार हो सके, परंतु इन सारे समझौतों के बावजूद जिस चीज को हमें भूलना न चाहिए वह हमारा आदर्श है जो हमेशा हमारे सामने रहना चाहिए। जिस लक्ष्य के लिए हम लड़ रहे हैं उनके संबंध में हमारे विचार बिल्कुल स्पष्ट और दृढ़ होने चाहिए।

हमारा लक्ष्य शासन शक्ति को उन हाथों के सुपुर्द करना है, जिनका लक्ष्य समाजवाद हो, इसके लिए मजदूरों और किसानों को संगठित करना आवश्यक होगा, क्योंकि उन लोगों के लिए लॉर्ड रीडिंग या इर्विन की जगह तेजबहादुर या पुरुषोत्तम दास, ठाकुर दास के उग जाने से कोई भारी फर्क न पड़ सकेगा।

 
मुझे दंड सुना दिया गया है और फांसी का आदेश हुआ है। इन कोठरियों में मेरे अतिरिक्त फांसी की प्रतीक्षा करने वाले बहुत से अपराधी हैं। ये यही प्रार्थना कर रहे हैं कि किसी तरह फांसी से बच जाएं, परंतु उनके बीच शायद मैं ही एक ऐसा आदमी हूं जो बड़ी बेताबी से उस दिन की प्रतीक्षा कर रहा हूं जब मुझे अपने आदर्श के लिए फांसी के फंदे पर झूलने का सौभाग्य प्राप्त होगा। मैं खुशी के साथ फांसी के तख्ते पर चढ़कर दुनिया को दिखा दूंगा कि क्रांतिकारी अपने आदर्शों के लिए कितनी वीरता से बलिदान दे सकते हैं।

जिंदा रहने की ख्वाहिश कुदरती तौर पर मुझमें भी होनी चाहिए। मैं इसे छिपाना नहीं चाहता, लेकिन मेरा जिंदा रहना एक शर्त पर है। मैं कैद होकर या पाबंद होकर जिंदा नहीं रहना चाहता।

आज मेरी कमजोरियां लोगों के सामने नहीं हैं। अगर मैं फांसी से बच गया तो वे जाहिर हो जाएंगी और इंकलाब का निशान मद्धिम पड़ जाएगा या शायद मिट ही जाए, लेकिन मेरे दिलेराना ढंग से हंसते-हंसते फांसी पाने की सूरत में हिन्दुस्तानी माताएं अपने बच्चों के भगत सिंह बनने की आरजू किया करेंगी और देश की आजादी के लिए बलिदान होने वालों की तादाद इतनी बढ़ जाएगी कि इंकलाब को रोकना इम्पीरियलिज्म की तमाम शैतानी कूवतों के बस की बात न रहेगी ।

जैसे पुराना कपड़ा उतारकर नया बदला जाता है, वैसे ही मृत्यु है। मैं उससे डरूंगा नहीं, भागूंगा नहीं। कोशिश करूंगा कि पकड़ा जाऊं पर यूं ही नहीं कि पुलिस आई और पकड़ ले गई। मेरे पास एक तरीका है कि कैसे पकड़ा जाऊं। मौत आएगी, आएगी ही पर मैं अपनी मौत को इतनी महंगी और भारी बना दूंगा कि ब्रिटिश सरकार रेत के ढेर की तरह उसके बोझ से ढक जाए।

मैंने जीवन में कभी वाहे गुरु को याद नहीं किया। कई बार तो मैंने देश की अवनति और लोगों के दुख के लिए उन्हें दोषी ठहराया है। अब जब मौत मेरे सामने खड़ी है वाहे गुरु की अरदास करूं तो वह कहेगा कि मैं बहुत डरपोक और बेइमान आदमी हूं। अब मुझे इस संसार से वैसे ही विदा हो जाने दो जैसा मैं हूं। मेरी क्रांति यह नहीं रहेगी कि भगत सिंह कायर था और उसने अपनी मौत से घबराकर वाहे गुरु को याद किया था।


यूट्यूब पर सुनें भगत सिंह के प्रेरक विचार:
 
दोस्तों, हमें उम्मीद है कि भगत सिंह के अनमोल वचन Bhagat Singh Quotes in Hindi आपको अवश्य पसंद आए होंगे। प्लीज़, इन्हें फ्रेंड्स के साथ भी अवश्य शेयर करें, जिससे ये अधिक से अधिक लोगों तक पहुंच सकें। और हां, जब भी कोई आपसे Bhagat Singh Dialogue in Hindi का जिक्र करे, तो उसे हमारा पता बताना मत भूलिएगा।
 
keywords: bhagat singh quotes in hindi, bhagat singh slogan in hindi, dialogue bhagat singh quotes, bhagat singh dialogue in hindi, bhagat singh thoughts in hindi, bhagat singh status hindi

COMMENTS

BLOGGER

रोचक एवं प्रेरक वीडियो के लिए हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

Subscribe
नाम

achievements,3,album,1,award,21,bal-kahani,8,bal-kavita,5,bal-sahitya,32,bal-sahityakar,13,bal-vigyankatha,3,blog-awards,29,blog-review,45,blogging,42,blogs,49,books,8,children-books,13,creation,9,Education,4,family,8,hasya vyang,3,hasya-vyang,8,Health,1,Hindi Magazines,7,interview,2,investment,3,kahani,2,kavita,9,kids,6,literature,15,Motivation,71,motivational biography,27,motivational love stories,7,motivational quotes,15,motivational real stories,5,motivational speech,1,motivational stories,21,ncert-cbse,9,personal,18,popular-blogs,4,religion,1,research,1,review,14,sahitya,28,samwaad-samman,23,science-fiction,4,script-writing,7,secret of happiness,1,seminar,23,Shayari,1,SKS,6,social,35,tips,12,useful,14,wife,1,writer,10,Zakir Ali Rajnish,27,
ltr
item
हिंदी वर्ल्ड - Hindi World: भगत सिंह के 51 प्रेरक विचार, जो आज भी हमें राह दिखाते हैं
भगत सिंह के 51 प्रेरक विचार, जो आज भी हमें राह दिखाते हैं
Bhagat Singh Quotes in Hindi - Bhagat Singh Dialogue in Hindi
https://1.bp.blogspot.com/-mo5qtPVyp78/YRSL-MbvCeI/AAAAAAAATWo/iakQOlcmdaMMVRWU8LxtN6LASHTgdZCZwCLcBGAsYHQ/s16000/Bhagat%2BSingh%2BQuotes.jpg
https://1.bp.blogspot.com/-mo5qtPVyp78/YRSL-MbvCeI/AAAAAAAATWo/iakQOlcmdaMMVRWU8LxtN6LASHTgdZCZwCLcBGAsYHQ/s72-c/Bhagat%2BSingh%2BQuotes.jpg
हिंदी वर्ल्ड - Hindi World
https://me.scientificworld.in/2021/08/bhagat-singh-quotes.html
https://me.scientificworld.in/
https://me.scientificworld.in/
https://me.scientificworld.in/2021/08/bhagat-singh-quotes.html
true
290840405926959662
UTF-8
Loaded All Posts Not found any posts VIEW ALL Readmore Reply Cancel reply Delete By Home PAGES POSTS View All RECOMMENDED FOR YOU LABEL ARCHIVE SEARCH ALL POSTS Not found any post match with your request Back Home Sunday Monday Tuesday Wednesday Thursday Friday Saturday Sun Mon Tue Wed Thu Fri Sat January February March April May June July August September October November December Jan Feb Mar Apr May Jun Jul Aug Sep Oct Nov Dec just now 1 minute ago $$1$$ minutes ago 1 hour ago $$1$$ hours ago Yesterday $$1$$ days ago $$1$$ weeks ago more than 5 weeks ago Followers Follow THIS PREMIUM CONTENT IS LOCKED STEP 1: Share to a social network STEP 2: Click the link on your social network Copy All Code Select All Code All codes were copied to your clipboard Can not copy the codes / texts, please press [CTRL]+[C] (or CMD+C with Mac) to copy