समाज बदलने को तत्पर ये साहसी महिलाएं

SHARE:

Brave Womens of India in Hindi.

समाज कहने को तो महिलाओं को बराबरी का दर्जा देता है, लेकिन जब अध‍िकार देने की बात आती है, तो मामला उलट जाता है। पर हर समाज में ऐसी महिलाएं होती हैं, जो मन में ठान लेती हैं, तो फिर बिना मंजिल के ठहरती नहीं। पढिए देश की ऐसी ही साहसी महिलाओं की रोचक दास्तान।
समाज बदलने को तत्पर ये साहसी महिलाएं

-प्रदीप कुमार सिंह

विश्व की साहसी महिलायें हर क्षेत्र में मिसाल कायम कर रही हैं। कुछ ऐसी बहादुर तथा विश्वास से भरी बेटियों से रूबरू होते हैं, जिन्होंने समाज में बदलाव और महिला सम्मान के लिए सराहनीय तथा अनुकरणीय मिसाल पेश की है। देश में डीजल इंजन ट्रेन चलाने वाली पहली महिला मुमताज काजी हो या पश्चिम बंगाल में बाल और महिला तस्करी के खिलाफ आवाज उठाने वाली अनोयारा खातून। ऐसी कई आम महिलाएं हैं जो भले ही बहुत लोकप्रिय न हो लेकिन उन्हें इस साल नारी शक्ति पुरस्कार के लिए चुना गया। 

राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 8 मार्च को 30 महिलाओं को पुरस्कृत किया। पुरस्कार पाने वालों में नागालैण्ड की महिला पत्रकार बानो हारालू_Bano Haralu भी शामिल है जो नागालैण्ड में पर्यावरण संरक्षण के लिए काम कर रही है। उत्तराखण्ड की दिव्या रावत_Divya Rawat ग्रामीणों के साथ मशरूम की खेती को विकसित करने की भूमिका निभा रही है। छत्तीसगढ़ पुलिस में कांस्टेबल स्मिता तांडी_Smita Tandi ने 2015 में जीवनदीप समूह बनाया जो गरीबों को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए आर्थिक मदद करता है।
[post_ads]
सऊदी में कार चलाने तो फ्रांस में समान वेतन के अधिकार के लिए। पाकिस्तान में घरेलू हिंसा तो अमेरिका में राजनेताओं की भद्दी टिप्पणियों से बचने को। दुनिया के कई देशों में आधी आबादी बड़ी-बड़ी लड़ाइयां लड़ रही हैं। बीते साल मई में पाकिस्तान के काउंसिल ऑफ इस्लामिक आइडियोलॉजी ने एक प्रस्ताव पेश कर पत्नियों की पिटाई को जायज ठहराया। इसके बाद ट्विटर पर ट्राईबीटिंगमीलाइटली अभियान शुरू हो गया। हजारों महिलाओं ने फोटो के साथ संदेश पोस्ट कर लिखे कि जैसे पति ने पीटा तो उसके हाथ तोड़ दूंगी। अमेरिका में इस साल 21 जनवरी की तारीख सबसे बड़े महिला आंदोलन की गवाह बनी। वाशिंगटन शहर में लाखों महिलाएं गुलाबी टोपी पहने सड़कों पर उतरीं। उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्डो ट्रंप की महिला विरोधी टिप्पणियों का कड़ा विरोध किया। दुनियाभर में लाखों महिलाओं ने सोशल मीडिया पर उनका समर्थन किया।

तुर्की के इस्तांबुल में नवंबर 2016 में हजारों महिलाओं ने उस बिल का विरोध किया जिसमें यह प्रावधान था कि यदि किसी नाबालिग लड़की से दुष्कर्म का आरोपी उससे शादी कर ले तो उसे सजा नहीं दी जाएगी। इसके विरोध में महिलाओं ने नारे लगाऐ। फिलहाल बिल वापस ले लिया गया पर महिलाएं दुष्कर्मियों को कड़ी सजा देने की मांग पर डटी हैं। चीन में फरवरी 2017 में एक महिला संगठन का सोशल मीडिया अकाउंट बंद कर दिया गया। इस अकाउंट में संगठन ने ए डे बिदाउट वूमेन शीर्षक से एक लेख पोस्ट किया था। साथ में अमेरिकी महिलाओं के प्रदर्शन की तस्वीर भी जारी की थी। चीनी महिलाएं सोशल मीडिया पर विचार व्यक्त करने की आजादी मांग रही हैं।

brave womens in india
बिहार की सुधा वर्गीज_Sudha Varghese विकास और महिला सशक्तीकरण की पर्याय बन चुकी हैं। वर्गीज ने जीवन मुसहर जाति के विकास में समर्पित कर दिया है। इसके लिए सरकार ने 2006 में उन्हें पद्मश्री से सम्मानित किया। पटना से सटे मनेर में दो लड़कियों पर इसलिए तेजाब डाल दिया गया क्योंकि वे दबंगों की छेड़खानी का विरोध करती थी।

महाराष्ट्र की वर्षा जवलगेकर_Varsha Jawalgekar ने इस हमले की शिकार चंचल का साथ दिया। एक बार वर्षा पर भी हमला हुआ। तब से वे परिवर्तन केन्द्र से जुड़कर तेजाब पीड़ितों को इंसाफ दिलाने का काम कर रही हैं। उन्होंने एक पीआईएल अप्रैल 2013 में दर्ज की। दिसम्बर 2015 में सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया कि तेजाब पीड़िता को विकलांग का दर्जा और मुआवजा 13 लाख रूपये दिए जाएं।

देहरादून में ढोल की थाप इस पहाड़ी इलाके में महिला सशक्तीकरण की गूंज पैदा कर रही है। गायिका माधुरी बड़थ्वाल_Madhuri Badthwal ने पहली बार महिलाओं का ढोल बैंड बनाया है। आकाशवाणी में 32 साल काम करने बाद माधुरी जब रिटायर होकर दून आई तब उन्होंने बीस ऐसी महिला सहयोगियों का ग्रुप तैयार कर लिया है जो ढोल वादन में पारंगत हो रही हैं।
[next]
उत्तर प्रदेश के सहारनपुर की अतिया साबरी_Atiya Sabri तीन तलाक के खिलाफ आवाज बुलंद कर सुप्रीम कोर्ट पहुंची। अतिया का निकाह 5 मार्च 2012 को हरिद्वार के वाजिद अली से हुआ। दो बेटियां होने पर पति ने एक पत्र भेजकर तलाक दे दिया। अतिया ने आठ जनवरी 2017 को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की। अतिया के मुताबिक, निकाह और तलाक के वक्त पति-पत्नी की सहमति जरूरी है। मगर पति ने तलाक के वक्त सहमति नहीं ली। महिलाएं घर बैठे ईमेल से भी किसी भी मामले की शिकायत दर्ज करवा सकती हैं। इसके लिए उन्हें थाने आने की जरूरत नहीं है।

कहते है कि मारने वाले का हाथ पकड़ा जा सकता है, मगर कहने वाले की जुबान नहीं। जीवन में कुछ करना या बनना चाहते हैं, तो यह सोचो कि लोग क्या कहेंगे? हॉलीवुड की एक सुप्रसिद्ध अभिनेत्री के शब्दों में- हर आवाज को यदि हम सुनेंगे, तो हम वे सब नहीं कर पायेंगे, जो हम करना चाहते हैं। मैंने इसी सूत्र को अपनाया है और मैं संतुष्ट हूं। हर समय लोगों की सोच की चिंता करते रहने से हमारी इच्छाएं दम तोड़ने लगती हैं। जब हम स्वयं से संतुष्ट हैं, तो फिर लोगों की बातों से बिल्कुल विचलित न हों।

भारत की पहली महिला फायर फाइटर हर्षिणी कान्हेकर_Harshini Kanhekar, जो नेशनल फायर सर्विसेज कॉलेज की पहली ग्रेजुएट हैं, कहती हैं कि ‘मुझ पर भी लोगों ने बहुत आरोप लगाए। लेकिन मैंने लोगों की बातों पर ध्यान नहीं दिया और अपनी पूरी ऊर्जा फाइटर बनाने में लगा दी। आग पर काबू पाने वाली हर्षिणी आज महिलाओं की प्रेरणास्रोत हैं। महिलाएं हैं तो दुनिया है। हर पल, हर समय खुद को महत्वपूर्ण समझें, औरत का जितना सम्मान होगा दुनिया उतनी ही खूबसूरत होगी। समय के साथ माहौल में भी काफी बदलाव आया है। पुरूषों की सोच भी बदली है।

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के प्रोफेसर श्री सदानंद साही के अनुसार लगभग एक दशक पहले में विश्वविद्यालय के महिला अध्ययन केंद्र से जुड़ा था। उस दौर में हमने महिला अध्ययन में पाठ्यक्रम आदि बनाए। तब हमें कुछ पुरूष सहकर्मियों की टिप्पणियां हैरत में डाल देतीं। वे कहते रहते कि कहां फंसे हो, महिलाएं वैसे ही बेहाथ हो गई हैं, आप लोग महिला अध्ययन कराकर और दिमाग खराब कर रहे हैं। तब मुझे लगा कि महिला अध्ययन की जरूरत महिलाओं से ज्यादा पुरूषों को है।

श्री साही के अनुसार अभी जब एक नवयुवती गुरमेहर कौर_Gurmehar Kaur ने कहा कि वह किसी से डरती नहीं है, तो हंगामा बरपा हो गया। क्या हमारा समाज अब भी इतना परिपक्व नहीं हुआ है कि वह किसी निडर लड़की के अस्तित्व को स्वीकार कर सके? गुरमेहर के जिस वीडियो को आधार बनाकर उनके खिलाफ वातावरण बनाया गया, उस वीडियो में वह एक ऐसे समाज की कल्पना करती दिखती हैं, जिसमें घृणा और युद्ध के लिए स्थान नहीं है। और क्यों न करें? युद्ध व आतंकवाद का सबसे बड़ा खामियाजा स्त्री को ही तो भुगतना पड़ता है। आतंकवाद का विरोध करने के लिए विश्व ने मलाला यूसुफजई का अभिनंदन किया। ऐसे में, यदि गुरमेहर युद्ध के उन्माद का विरोध करते दिखाई देती है तो आगे बढ़ हमें उनका अभिनंदन करना चाहिए। एक उदात्त व मानवीय दुनिया रचने की दिशा में हमें ठोस कदम उठाने चाहिए।

दिल्ली की डॉ. किरण मार्टिन_Dr. Kiran Martin ने अपने अनुभव का शेयर करते हुए बताया कि मैं एक डॉक्टर हूं और शुरू से ही मुझमें गरीब और बेसहारा लोगों की सेवा करने की भावना रही है। वर्ष 1988 की बात है। अचानक मुझे एक दिन पता चला कि दक्षिण दिल्ली की झुग्गी-बस्तियों में हैजा फैल गया है, जिस कारण स्थिति गंभीर हैं। मैंने उसी समय वहां का रूख किया। पर झुग्गी में घुसते ही मैं स्तब्ध रह गई। उससे पहले मैं कभी झुग्गी के अंदर नहीं गई थी। वहां चारों तरफ गंदगी बिखरी थी। बच्चे गंदगी के पास ही खेल रहे थे। मैंने तत्काल किसी से एक मेज मांगा और एक पेड़ के नीचे बैठ गई। पेड़ के नीचे बैठकर ही बीमारों का इलाज किया।

डॉ. किरण मार्टिन ने उसी झुग्गी बस्ती में एक छोटे से कमरे में अपनी क्लीनिक खोली। कुछ दिनों तक वहां काम करने के बाद मैंने खासकर वहां की औरतों की दशा सुधारने के लिए आशा सोसाइटी की स्थापना की। मैंने वहां की औरतों को कम्युनिटी हेल्थ वर्कर के रूप में तैयार करना शुरू किया। मैंने उन्हें पौष्टिक भोजन, साफ-सफाई, खुले मंे शौच की आदत छोड़ने और बच्चों के टीकाकरण के बारे में समझाया। आज हर झुग्गी बस्ती में एक आशा सोसाइटी है, जहां एक क्लीनिक है। आशा सोसाइटी के हस्तक्षेप से दिल्ली की झुग्गी-बस्तियों में नवजात मृत्यु दर तो घटी ही है, प्रसव के समय माताओं की मृत्यु के मामले भी न के बराबर रह गए हैं। आज मैं दिल्ली की करीब साठ झुग्गी-बस्तियों में घूमती हूं। वहां के पांच लाख से अधिक मरीज मेरी देख-रेख में ठीक हुए हैं। अब झुग्गियों में रहने वाले लोगों का जीवन स्तर सुधरा है और उनकी आय भी बढ़ी है।
keywords: brave womens in india, brave womens indian history, brave womens in history, brave womens in world, brave womens of india in hindi, brave indian woman's name, indian brave womens list, india's bravest woman, brave lady quotes, brave lady quotes in hindi, appreciate a good woman quotes, brave woman quotes in hindi, strong confident woman quotes in hindi, strong woman quotes in hindi, proud to be a woman quotes,

COMMENTS

BLOGGER: 1
Loading...
नाम

achievements,4,album,1,award,21,bal-kahani,7,bal-kavita,5,bal-sahitya,29,bal-sahityakar,14,bal-vigyankatha,3,blog-awards,29,blog-review,45,blogging,43,blogs,49,books,12,children-books,11,creation,11,Education,4,family,8,hasya vyang,3,hasya-vyang,8,Hindi Magazines,7,interview,2,investment,3,kahani,2,kavita,8,kids,6,literature,15,Motivation,40,motivational biography,9,motivational love stories,7,motivational quotes,6,motivational real stories,4,motivational stories,19,ncert-cbse,9,personal,24,popular-blogs,4,religion,1,research,1,review,18,sahitya,32,samwaad-samman,23,science-fiction,4,script-writing,7,secret of happiness,1,seminar,23,SKS,6,social,35,tips,12,useful,14,wife,1,writer,10,
ltr
item
हिंदी वर्ल्ड - Hindi World: समाज बदलने को तत्पर ये साहसी महिलाएं
समाज बदलने को तत्पर ये साहसी महिलाएं
Brave Womens of India in Hindi.
https://3.bp.blogspot.com/-uI2-oLqDCQA/WMbORy4VBqI/AAAAAAAAK4I/86JngBgE_lEof4CdfPgFNFZrFXx956AIwCLcB/s1600/International%2BWomens%2BDay.jpg
https://3.bp.blogspot.com/-uI2-oLqDCQA/WMbORy4VBqI/AAAAAAAAK4I/86JngBgE_lEof4CdfPgFNFZrFXx956AIwCLcB/s72-c/International%2BWomens%2BDay.jpg
हिंदी वर्ल्ड - Hindi World
http://me.scientificworld.in/2017/03/brave-womens-india-hindi.html
http://me.scientificworld.in/
http://me.scientificworld.in/
http://me.scientificworld.in/2017/03/brave-womens-india-hindi.html
true
290840405926959662
UTF-8
Loaded All Posts Not found any posts VIEW ALL Readmore Reply Cancel reply Delete By Home PAGES POSTS View All RECOMMENDED FOR YOU LABEL ARCHIVE SEARCH ALL POSTS Not found any post match with your request Back Home Sunday Monday Tuesday Wednesday Thursday Friday Saturday Sun Mon Tue Wed Thu Fri Sat January February March April May June July August September October November December Jan Feb Mar Apr May Jun Jul Aug Sep Oct Nov Dec just now 1 minute ago $$1$$ minutes ago 1 hour ago $$1$$ hours ago Yesterday $$1$$ days ago $$1$$ weeks ago more than 5 weeks ago Followers Follow THIS CONTENT IS PREMIUM Please share to unlock Copy All Code Select All Code All codes were copied to your clipboard Can not copy the codes / texts, please press [CTRL]+[C] (or CMD+C with Mac) to copy